आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक सभी कोविड-19 वॉरियर्स को सलाम करता है

कोरोनावायरस महामारी ने हमारे जीवन की लय को बदल दिया है जिसका आज हम सामना कर रहे हैं।

ऐसे अवसर पर, जब राष्‍ट्र को इसकी सबसे अधिक जरूरत है, साथ चलने की हमारी प्रतिबद्धता के एक भाग के रूप में, आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक कोविड-19 महामारी से प्रभावित - दिहाड़ी मजदूर, शहरी झुग्गी और ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों का सहयोग कर रहा है। बैंक भी अग्रिम पंक्ति - डॉक्टर, नर्स, पुलिस अधिकारी, स्थानीय नगरपालिका कर्मचारियों; उन सबके लिए जो अपनी जान जोखिम में डालकर महामारी का मुकाबला करने के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं, को अपना सहयोग प्रदान कर रहा है।

हम अपना प्रयास कर रहे हैं, लेकिन इस विशाल कार्य में आप सबका सहयोग जरूरी होगा। आपको यह जानकर खुशी होगी कि बैंक ने समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को लाभ पहुंचाने के लिए कई कार्यक्रम शुरू किए हैं।

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक पीएम केयर्स अंशदान

यही समय है कि हम साथ मिलकर कोरोनावायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई जीतने में राष्‍ट्र को सहयोग दें। आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक ने, पीएम केयर्स फंड में रु. 5 करोड़ के अपने अंशदान के माध्यम से राष्‍ट्र का सहयोग करने का वचन दिया है। आप भी दान कर सकते हैं और बदलाव ला सकते हैं।

X

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक आस्क फॉर मास्क कार्यक्रम

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक का लक्ष्य कोविड-19 महामारी से लड़ने वाले 1.5 लाख अग्रणी और आवश्यक सेवा कर्मचारियों को मास्क प्रदान करना है। गैर सरकारी संगठनों, एताशा सोसाइटी और अंतरंग फाउंडेशन की साझेदारी में, बैंक मुंबई और दिल्ली में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, सिविल सेवा कर्मचारियों और आबादी के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को मुफ्त वितरित किए जाने वाले मास्‍क बनाने के लिए 250 महिला उद्यमियों को एकजुट कर रहा है। बैंक गैर सरकारी संगठनों को वित्तीय सहायता, कच्चा माल, लॉजिस्टिक और वितरण सहायता सुनिश्चित करता है। इसके अतिरिक्त, बैंक डॉक्टरों और नर्सों को एन95 मास्क भी प्रदान कर रहा है।

X

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक श्रमिक सहायता कार्यक्रम

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक का कलेक्टिव गुड फाउंडेशन की भागीदारी से शहरी और ग्रामीण भारत के 625 श्रमिकों को रु. 3000 के प्रत्यक्ष नकद अंतरण, सरकारी योजनाओं और स्वास्थ्य बीमा उत्पादों तक पहुंच के माध्यम से तत्काल वित्तीय सहायता प्रदान करने का लक्ष्‍य है। इस पहल का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि श्रमिकों जैसे - ट्रक चालकों, स्वच्छता कार्यकर्ताओं, कूड़ा बीनने वालों आदि को लॉकडाउन के दौरान और बाद में वित्तीय सहायता, आवश्यक योजनाओं तक पहुंच और सरकारी योजनाओं से अपेक्षित हकदारी प्राप्‍त हो।

X

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक शेयर-ए-मील कार्यक्रम

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक, समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए शेयर-ए-मील कार्यक्रम के तत्वावधान में खाली बैठे प्रवासी मजदूरों को भोजन के 100,000 पैकेट वितरित कर रहा है। हमारे एनजीओ सहयोगी अक्षयपात्र एनजीओ और रेस्तरां भागीदारों की मदद से, हम भारत भर में बड़े पैमाने पर बेघर प्रवासी आबादी तक पहुंच रहे हैं।

X

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक गांव गांव मास्‍क कार्यक्रम

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक ने एंड पॉवर्टी और वृत्ति एनजीओ की साझेदारी में और ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए पुन: प्रयोज्य कपड़े की मास्क सिलाई करने के लिए अपनी 150 महिला ग्राहकों से संपर्क किया है, जिससे उन्हें कोविड-19 संकट के समय आजीविका का अवसर मिला है। राजस्थान और मध्य प्रदेश में 2,50,000 मास्क बनाने और वितरित करने के लिए हम इन महिलाओं को पूरी सहायता प्रदान करेंगे।

X

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक जानकारी में समझदारी कार्यक्रम

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक लगातार उचित स्वच्छता, साफ-सफाई और सामाजिक दूरी बनाए रखने के बारे में जागरूकता फैलाने में संलग्‍न है। हम 1 मिलियन से अधिक ग्रामीण परिवारों तक पहुंचने के लिए, ग्राहकों से मिलने और डिजिटल संचार के माध्यम से ग्रामीण बाजारों में प्रयास तेज करेंगे। कार्यक्रम का नेतृत्व हमारे कर्मचारी करेंगे जो स्कूलों में बच्चों और गांवों के बुजुर्गों को कोविड-19 महामारी से रोकथाम और उनमें या उनके परिवार के सदस्यों में, कोविड-19 के संक्रमण के लक्षण पाए जाने पर उठाए जाने वाले कदमों के बारे में शिक्षित करेंगे।

X

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक कोविड वॉरियर्स ऑन व्‍हील्‍स कार्यक्रम

आई डी एफ सी फर्स्‍ट बैंक ने अपनी जान जोखिम में डालकर कोविड-19 महामारी से प्रभावित लोगों की सेवा में निरंतर कार्यरत चिकित्‍सा कर्मियों - डॉक्टरों, नर्सों और सहायक कर्मचारियों को मुफ्त परिवहन सेवाएं प्रदान करने के लिए कैब-किराए पर देने वाली कंपनियों के साथ करार किया है। इस पहल के तहत, बैंक ने मुंबई में हिंदुजा और लीलावती अस्पतालों के लिए लॉकडाउन अवधि के अंत तक समर्पित कारें नि: शुल्क उपलब्ध कराई हैं।

X
X